भोपाल में एनएसयूआई कार्यर्ताओं पर बरसी लाठियां, प्रदेश सचिव हुये बेहोश


भोपाल. मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में पुलिस ने एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं पर जमकर लाठीचार्ज किया. एनएसयूआई कार्यकर्ता मुख्यमंत्री निवास का घेराव करने जा रहे थे. एनएसयूआई के कार्यकर्ता बढ़ती बेरोजगारी और बढ़ती फीस का विरोध करने के लिए मुख्यमंत्री निवास की तरफ जा रहे थे. मुख्यमंत्री निवास की ओर से जा रहे एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं को पुलिस ने कांग्रेस के दफ्तर के बाहर ही रोक लिया. एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं पर पुलिस ने जमकर लाठियां चलाईं. इससे पहले कार्यकर्ताओं को पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने संबोधित भी किया था.

 डीआईजी इरशाद वली माइक से अनाउंस करते रहे कि कोई लाठीचार्ज नहीं करे, लेकिन पुलिस ने उनके निर्देशों की अनसुनी करते हुए लाठीचार्ज कर दिया. इस दौरान हृस्ढ्ढ के प्रदेश सचिव अभिमन्यु तिवारी बेहोश हो गए. उनको तुरंत अस्पताल भेजा गया. एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने आरोप लगाया कि पुलिस की लाठी से वे बेहोश हुए हैं. एनएसयूआई कार्यकर्ता शिक्षा बचाओ-देश बचाओ अभियान के तहत गुरुवार को सीएम शिवराज सिंह के आवास का घेराव करने करने  पीसीसी मुख्यालय पर जुटे थे. यहां पर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ, पूर्व मंत्री पीसी शर्मा, विधायक कुणाल चौधरी, एनएसयूआई के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीरज कुंदन, हृस्ढ्ढ के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष विपिन वानखेड़े, प्रदेश अध्यक्ष मंजुल त्रिपाठी उपस्थित थे.