गृह मंत्रालय के बाहर टीएमसी सांसदों का प्रदर्शन, बोले: त्रिपुरा सरकार को बर्खास्त किया जाए
नई दिल्ली. पश्चिम बंगाल से टीएमसी के सांसद इस वक्त राजधानी नई दिल्ली में गृह मंत्रालय के बाहर प्रदर्शन कर रहे हैं. टीएमसी के ये सांसद त्रिपुरा की भाजपा सरकार पर गुंडागर्दी के आरोप लगा रहे हैं. सुखेंदु शेखर रॉय ने मीडिया से बातचीत में कहा कि त्रिपुरा की सरकार को बर्खास्त किया जाना चाहिए. त्रिपुरा में गुंडा राज कायम किया गया है. गृह मंत्री से हम मिलना चाहते थे लेकिन उन्होंने हमें समय नहीं दिया है. हमारी ञ्जरूष्ट युवा नेता पर झूठा मुकदमा दर्ज किया गया.त्रिपुरा पुलिस ने रविवार को पश्चिम बंगाल की तृणमूल कांग्रेस की नेता सायानी घोष को हत्या के प्रयास के आरोप में गिरफ्तार किया. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि घोष पर शनिवार रात को मुख्यमंत्री बिप्लव कुमार देब की एक नुक्कड़ सभा के दौरान उन्हें धमकी देने का आरोप है. घोष ने बैठक स्थल पर पहुंचकर कथित तौर पर खेला होबे के नारे लगाकर सभा को बाधित किया. तृणमूल कांग्रेस की पश्चिम बंगाल इकाई की युवा शाखा की सचिव सायानी घोष को तृणमूल कांग्रेस के महासचिव अभिषेक बनर्जी के दौरे से 24 घंटे पहले हिरासत में लेने के बाद गिरफ्तार किया गया. घोष को पूछताछ के लिए थाने बुलाया गया था. पुलिस सूत्रों ने कहा कि अभिषेक की अगरतला में एक रैली आयोजित करने की योजना थी, जिसे कोविड के वर्तमान हालात को देखते हुए अनुमति नहीं दी गई है.अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी (सदर) रमेश यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री के खिलाफ की गई टिप्पणियों के आरोप में सायानी घोष के खिलाफ आईपीसी की धारा 307 (हत्या का प्रयास), धारा 153ए (दो समूहों के बीच वैमन्स्य को बढ़ावा देना) के तहत गिरफ्तार किया गया है. यादव ने कहा कि घोष और उनके साथ पहुंचे कुछ लोगों ने मुख्यमंत्री की सभा के दौरान कथित तौर पर पथराव किया.