27 नवंबर तक पूर्ण हों राजस्व अभिलेख शुद्धिकरण के तहत् प्राप्त सभी प्रकरणों का निराकरण: कलेक्टर
काल चिंतन कार्यालय वैढ़न,सिंगरौली। सिंगरौली जिले में राजस्व अभिलेखों के शुद्धिकरण पखवाड़े के तहत् सभी उपखण्डों में शुद्धिकरण का कार्य सुचारू ढंग से चल रहा है। इस संबंध में कलेक्टर राजीव रंजन मीना के द्वारा राजस्व शुद्धिकरण के तहत् किये गये कार्यों कि प्रगति की समीक्षा समय-सीमा के बैठक के दौरान उपस्थित राजस्व अधिकारियों करने के पश्चात् निर्देश दिये कि 27 नवम्बर तक सभी प्रकरणों का शत-प्रतिशत निराकरण किया जाना सुनिश्चित करें। उन्होंने उपखण्डवार धारणाधिकार रिक्त भूमियों के डेटा परिमार्जन, फौती नामान्तरण, आंशिक खसरा की संख्या, शून्य क्षेत्र वाले खसरों की संख्या सहित सक्रिय मूल एवं बटांक आबादी सर्वे रिपोर्ट के तहत् किये गये कार्यों की जानकारी लेने के पश्चात् निर्देश दिये कि किसी भी उपखण्ड में फौती नामान्तरण का कोई भी प्रकरण निराकरण के लिए लंबित न रहें। कलेक्टर श्री मीना ने वनाधिकार के लंबित प्रकरणों के निराकरण के संबंध में जानकारी लेने के पश्चात् निर्देश दिये कि सभी उपखण्ड अधिकारी अपने क्षेत्रों में लंबित प्रकरणों का निराकरण 3 दिवस के अन्दर कर जिला स्तरीय समिति की ओर भेजना सुनिश्चित करें। उन्होंने सीएम हेल्पलाईन के अन्तर्गत दर्ज प्रकरणों के निराकरण की समीक्षा पश्चात् निर्देश दिए कि प्राप्त शिकायतों का निराकरण निरन्तर किया करे तथा 100 दिवस के उपर की लंबित शिकायतों का भी निराकरण निर्धारित समय-सीमा के अन्दर सभी विभागीय अधिकारी किया जाना सुनिश्चित करें। कलेक्टर ने भू-माफियों के विरूद्ध की गई कार्यवाही के साथ-साथ अवैध रेत परिवहन एवं खाद्यानों की कालाबजारी करने वालों के विरूद्ध की गई कार्यवाही के प्रगति की जानकारी लेने के पश्चात् निर्देश दिए कि सभी एसडीएम अपने-अपने क्षेत्रों में ऐसे बड़े अतिक्रमण जो शासकीय भूमियों पर किये गये हैं उन्हें चिन्हित कर हटाये जाने की कार्यवाही करें एवं अवैध रूप से रेत परिवहन करने वाले के साथ-साथ खाद्यानों की कालाबजारी करने वालों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही करें। उन्होंने खाद्य पदार्थों में मिलावट करने वालों के विरूद्ध अभियान चलाकर सेम्पलिंग करने के निर्देश दिये। कलेक्टर ने जल जीवन मिशन के तहत् किये जा रहे कार्यों कि समीक्षा करते हुए निर्देश दिये कि निर्धारित समय-सीमा के अन्दर कार्य पूर्ण किया करे उन्होने निर्देश दिया कि प्रतिदिवस के कार्य का लक्ष्य निर्धारण कर कार्य किये जायें। बैठक के दौरान जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री साकेत मालवीय, अपर कलेक्टर डीपी वर्मन, संयुक्त कलेक्टर विकास सिंह, व्हीपी पाण्डेय, एसडीएम ऋषि पवार, सम्पदा सर्राफ, तहसीलदार जितेन्द्र वर्मा, जान्हवी शुक्ला, दिव्या सिंह, दिवाकर सिंह अधीक्षण यंत्री विद्युत एसपी तिवारी, सहित जिलाधिकारी उपस्थित रहे।