केरल के 8 पर्यटक होटल में बेहोश पाए गए, एयरलिफ्ट कर काठमांडू के अस्पताल लाए जाने पर मौत


काठमांडू. 8 भारतीय पर्यटक मंगलवार को नेपाल के एक होटल में बेहोश पाए गए। पुलिस के मुताबिक, जब इन्हें एयरलिफ्ट कर काठमांडू के अस्पताल लाया गया तो डॉक्टरों ने इन्हें मृत घोषित कर दिया। विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन ने बताया कि सभी पर्यटक तिरुअनंतपुरम (केरल) के निवासी हैं। इनके शव काठमांडू से तिरुअनंतपुरम लाए जा रहे हैं। 


मुरलीधरन ने बताया कि मृतकों में रंजीत और प्रवीण समेत उनकी पत्नियां और 4 बच्चे शामिल हैं। डॉक्टरों ने बताया कि दम घुटने की वजह से इनकी मौत हुई। 


एक ही कमरे में रुके थे आठों पर्यटक, खिड़की-दरवाजे बंद थे
नेपाल पुलिस ने कहा कि 15 सदस्यीय दल केरल से नेपाल आया था। लौटते वक्त ये लोग मकवानपुर जिले के दमन स्थित एवरेस्ट पैनोरमा रिजॉर्ट में रुके थे। होटल मैनेजमेंट ने बताया कि सभी सोमवार रात 9:30 बजे रिजॉर्ट में आए। इन लोगों ने कमरे को गर्म रखने के लिए गैस हीटर ऑन किया था। इन लोगों ने 4 कमरे बुक किए थे। 8 लोग एक ही कमरे में ठहरे थे। बाकी अन्य कमरों में। जिस रूम में आठों पर्यटक ठहरे थे, उसके सभी दरवाजे और खिड़कियां बंद थीं। इन लोगों के साथियों ने सभी के अचेत होने के बारे में जानकारी दी। इसके बाद इन्हें एयरलिफ्ट कर काठमांडू के अस्पताल लाया गया, जहां इन्हें मृत घोषित कर दिया गया। इनकी मौत की वजह गैस लीक हो सकती है।


कार्बन मोनोऑक्साइड से जान जाने का खतरा


खराब गैस हीटर के कारण कमरे में कार्बन मोनोऑक्साइड बनती है। बिना किसी रंग और गंध की यह गैस बेहद जहरीली होती है। इससे खून में ऑक्सीजन की मात्रा कम हो जाती है। इससे शरीर के लगभग सभी अंग प्रभावित होने लगते हैं। यही मौत का कारण बन जाती है।


Popular posts