पंजाब में रेलवे ट्रैक पर बैठे किसान, चार जगह पर धरना जारी, 11 ट्रेनें रद्द, दर्जनों प्रभावित


फिरोजपुर(पंजाब)



पराली जलाने को लेकर किसानों पर दर्ज केसों को रद्द करने की मांग को लेकर पंजाब में किसान मंगलवार को रेल ट्रैक पर बैठ गए। प्रदर्शन के चलते रेल डिवीजन फिरोजपुर की 15 मेल एक्सप्रेस और 12 पैसेंजर ट्रेनें प्रभावित हुई हैं। 11 ट्रेनों को रद्द कर दिया गया। तकरीबन 25 हजार यात्री परेशान हुए हैं। डिवीजन में चार स्थानों पर एक हजार के करीब किसानों ने धरना देकर रेल यातायात ठप किया है।रेल अधिकारियों के मुताबिक किसानों ने गन्ने की पेमेंट और पराली जलाने वाले किसानों पर दर्ज केसों को रद्द करने की मांग को लेकर मंगलवार डिवीजन में कई स्थानों पर रेल यातायात ठप कर धरना दिया। किसानों ने सुबह 11.30 बजे धरना देना शुरू किया। अमृतसर-ब्यास रेल सेक्शन के बीच ब्यास-बुटारी, अमृतसर-तरनतारन सेक्शन पर भगतनवाला, फिरोजपुर-फाजिल्का सेक्शन के अंतर्गत झोंक हरिहर-गुरुहरसहाए और फिरोजपुर-जालंधर रेल सेक्शन में मक्खू-मल्लांवाला के पास सैकड़ों किसानों ने रेल यातायात ठप कर धरना दिया। किसानों के प्रदर्शन के कारण कई ट्रेनें प्रभावित हुईं।उधर, किसानों ने दोपहर का भोजन भी ट्रैक पर किया। किसानों ने खानपान का पूरा बंदोबस्त किया हुआ है। किसानों के साथ महिलाएं और बच्चे भी धरने पर बैठे हुए हैं। मल्लांवाला के पास सैकड़ों की संख्या में किसान धरना दे रहे हैं। एसएसपी फिरोजपुर किसानों को मनाने के लिए गांव मलू वाला के गुरुद्वारे में किसान नेताओं से बातचीत की। समाचार लिखे जाने तक किसानों का धरना जारी था।

अमृतसर-दिल्ली ट्रैक पर बैठे किसान, गाड़ियां रोकी
किसान-मजदूर संघर्ष यूनियन ने अलग-अलग मांगों को लेकर मंगलवार सुबह कस्बा रय्या के पास गांव निरंजनपुर में अमृतसर-दिल्ली रेलवे ट्रैक पर धरना दिया। कई गाड़ियों को रोक दिया गया। ट्रैक पर बैठे यूनियन के सदस्यों ने अमृतसर-जयनगर व अमृतसर-नंगल डैम ट्रेन को रोक दिया।किसानो ने केंद्र व पंजाब सरकार को चेतावनी दी कि जब तक उनकी मांगों को स्वीकार नहीं किया जाता तब तक वह रेलवे ट्रैक पर बैठ कर प्रदर्शन करते रहेंगे। किसान-मजदूर यूनियन के धरने को रोकने के लिए जिला पुलिस ने मंगलवार सुबह कुछ किसान नेताओं को गिरफ्तार भी किया था। इसके बावजूद किसान ट्रैक पर बैठ गए। उधर, यूनियन के सदस्यों ने तरनतारन से अमृतसर जाने वाली डीएमयू को रोका। किसान नेता जरनैल सिंह ने ट्रैक पर बैठे यूनियन के सदस्यों को संबोधित करते हुए कहा कि केंद्र व प्रदेश की ओर से मांगें स्वीकार न किए जाने के कारण यह धरना दिया जा रहा है। 

ये ट्रेनें हुईं प्रभावित
रेल डिवीजन फिरोजपुर के डीआरएम राजेश अग्रवाल ने बताया कि किसानों के धरने के चलते रेल डिवीजन फिरोजपुर की 11 मेल एक्सप्रेस और पैसेंजर ट्रेनें रद्द की गई हैं।